मुख्यमंत्री ने त्योहार को शान्तिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराये जाने के निर्देश दिए

लखनऊ (03 मार्च, 2019)।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से होली के त्योहार के दृष्टिगत सभी जनपदों के पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों को आवश्यक तैयारियां करने के साथ-साथ अलर्ट रहने और आवश्यक सावधानी बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आगामी 09 व 10 मार्च, 2020 को मनाए जाने वाले होली के त्योहार को हर हाल में शान्तिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराया जाना सुनिश्चित किया जाए।



वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों को सभी धर्मों के महत्वपूर्ण व्यक्तियों से समन्वय बनाते हुए उनसे निरन्तर संवाद रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होलिका दहन स्थलों की समुचित सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इस कार्य में होमगार्ड्स, चौकीदार, सिविल डिफेन्स, पी0आर0डी0, एस0पी0ओ0, क्षेत्रीय सम्भ्रान्त नागरिकों का सहयोग लिया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शरारती तत्वों के विरुद्ध बगैर भेदभाव के कठोर कार्रवाई की जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि ऐसे तत्व निर्धारित समय से पूर्व होलिका दहन न कर पायें। उन्होंने अराजक तत्वों को चिन्हित कर प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए। टाॅप टेन अपराधियों की सूची पर कार्रवाई की जाए। शान्ति समितियों की बैठकें नियमित रूप से आयोजित की जाएं। उन्होंने शांति भंग करने वाले तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

#UPCM ने कहा कि सुरक्षा के मद्देनजर बाजारों में विशेष सतर्कता बरती जाए। इसके अलावा, सभी जनपदों में प्रभावी पुलिसिंग के साथ-साथ पर्याप्त पुलिस पिकेट, फुट पैट्रोलिंग और UP-112 का व्यवस्थापन सुनिश्चित किया जाए। प्रभावी होली के त्योहार पर प्रभावी पुलिसिंग के लिए सहायक बल के रूप में होमगार्ड्स/चौकीदारों का व्यवस्थापन भी किया जाए। सभी जनपद अपने यहां कार्यरत स्थानीय अभिसूचना इकाई (एल0आई0यू0) को सक्रिय करें।



मुख्यमंत्री योगी ने होली के मद्देनजर सभी जनपदों में निर्बाध विद्युत आपूर्ति और जलापूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि नगरों और ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई एवं प्रकाश की समुचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने जहरीली शराब की बिक्री और तस्करी पर सख्ती से लगाम लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को बाजार में मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री पर प्रभावी नियंत्रण लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री के चिन्हित स्थलों पर पहले से निरोधात्मक कार्यवाही की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मिश्रित आबादी के क्षेत्रों, धार्मिक स्थलों आदि, जुलूस के मार्ग विशेषकर जंक्शन प्वाइन्ट्स एवं कम्यूनल हाॅट स्पाॅट्स पर प्रभावी पुलिस प्रबन्ध किए जाएं। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों को अपने-अपने जनपदों के #CCTV कैमरों को सक्रिय करने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यापारिक संस्थानों में लगे #CCTV कैमरों की सक्रियता भी सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्माें की माॅनीटरिंग करते हुए आपत्तिजनक चित्र/वीडियो पोस्ट करने वालों के विरुद्ध सख्त और प्रभावी कार्यवाही की जाए। किसी भी हाल में अफवाहें न फैलने दी जाएं। साथ ही, अफवाहों का तत्काल खण्डन सुनिश्चित किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्त पुलिस अधिकारी व कर्मचारी अपने संगत मजिस्ट्रेट के साथ पेट्रोलिंग करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा, सभी जिला चिकित्सालय सहित जनपद के अन्य अस्पतालों, ‘108’ व ‘102’ एम्बुलेन्स को एलर्ट पर रखते हुए चिकित्सकों/दवाओं/उपचार का समुचित प्रबन्ध सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी अस्पतालों की इमरजेंसी को हाई अलर्ट पर रखने के निर्देश दिए। उन्होंने मादक पदार्थों का सेवन कर अमर्यादित एवं अशोभनीय हरकतें करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए जाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि होली के अवसर पर बाजारों में भीड़ रहेगी। ऐसे में पुलिस सुरक्षा की व्यापक व्यवस्था करे। व्यापारिक स्थलों/बाजारों में प्रभावी फुट पैट्रोलिंग सुनिश्चित की जाए, ताकि व्यापारिक प्रतिष्ठानों में लूट, डकैती, हत्या आदि की घटनाएं न होने पाएं। माॅल्स, सिनेमाहाल, होटल, रेस्टोरेन्ट आदि में अराजकता न होने पाये।

मुख्यमंत्री ने जनपद शाहजहांपुर, संभल, अलीगढ़, गाजियाबाद, मेरठ, बिजनौर, सहारनपुर, मुरादाबाद, आगरा, कानपुर, कुशीनगर, गोरखपुर, लखनऊ, वाराणसी, आजमगढ़, प्रयागराज, झांसी और चित्रकूट के जिलाधिकारियों, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों से सीधे उनके जनपदों में होली के मद्देनजर की गई तैयारियों की जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
 
बैठक में मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश चन्द्र अवस्थी, प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।
btnimage