मंत्री अनुपमा जायसवाल ने जाँच रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए

लखनऊ (21 जुलाई, 2019)।
बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) अनुपमा जायसवाल ने समाचार पत्रों में प्रकाशित प्राइमरी स्कूलों के छात्र-छात्राओं को दिये जाने वाले जूतों में गड़बड़ी का संज्ञान लेते हुए तत्काल दो सदस्यीय जाँच कमेटी गठित कर दो दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। इस जाँच समिति में बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह एवं विशेष सचिव आनन्द कुमार सिंह सदस्य हैं।

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री ने कहा है कि जहां भी अनियमितता हुयी है उन्हें कड़ी सज़ा मिलेगी। उन्होंने कहा कि विभाग में इस प्रकार की अनियमितता कतई बर्दाश्त नही की जायेगी। इस कार्य में यदि किसी भी स्तर पर अधिकारियों द्वारा लापरवाही बरती गयी है तो ऐसे अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। विभाग सभी योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ लाभार्थियों तक पूरी पारदर्शिता एवं ईमानदारी के साथ पहुँचाने हेतु कटिबद्ध है। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही एवं उदासीनता को माफ नहीं किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों को पाठ्य-पुस्तकों सहित स्कूल बैग एवं एक जोड़ी जूते दो जोड़ी मोज़े और स्कूल-यूनीफार्म दी जाती है।
btnimage