मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा डी.ए.पी. की दर में 100 रूपयें प्रति बोरी की कमी

लखनऊ (10 जुलाई, 2019)।
सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा राष्ट्रीय सहकारी संस्था इफको द्वारा उवर्रक डी.ए.पी. (18ः46) की 50 के.जी. प्रति बोरी पर 100 रूपयें की कमी की गई है। उवर्रक की दरों में कमी किये जाने से किसानों को काफी राहत मिलेगी।

सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरूप, किसानों के हितो को ध्यान में रखते हुए, किसानों के आग्रह पर इफको ने फास्फेटिक उवर्रकों की दरों में कमी की है। इसमें 50 के.जी. प्रति बोरी उवर्रक डी.ए.पी. की पूर्व दर 1400 रूपयें प्रति बोरी की जगह अब 1300 रूपयें में मिलेगी। इसी प्रकार एन.पी.के. (12ः32ः16) 1325 रूपये के सापेक्ष 1260 रूपयें, एन.पी.के. (10ः26ः26) रूपयें 1315 के सापेक्ष 1250 रूपयें और एन.पी.एस. (20ः20ः0ः13) रूपयें 1015 के सापेक्ष 1000 रूपयें निर्धारित दर पर विक्री की जायेगी। यह संशेाधित दरे 10 जुलाई,2019 से लागू कर दी गई है। उन्होने बताया कि राष्ट्रीय सहकारी संस्था इफकों द्वारा सहकारिता क्षेत्र में उवर्रकों की आपूर्ति की जाती है। वर्तमान वर्षा ऋतु में अच्छी वर्षा हो जाने के कारण किसानों की धान रोपाई का कार्य प्रारम्भ हो गया है।

सहकारिता मंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश में अधिकांश किसानों द्वारा डी.ए.पी. उवर्रक का ही प्रयोग किया जाता है। डी.ए.पी. की दर में 100 रूपयें प्रति बोरी की सर्वाधिक कमी इफकों द्वारा की गई है। उन्होने यह भी बताया कि जो उवर्रक विक्री केन्द्रो पर रखा है और जिस पर पूर्व की दरे प्रिन्ट है उसकी बिक्री भी घटी हुई दरों पर ही की जायेगी, इसमें किसी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नही की जायेगी।
btnimage