मुख्यमंत्री के समक्ष MSME एवं निर्यात प्रोत्साहन विभाग और QCI के बीच MOU पर हस्ताक्षर

लखनऊ (04 मार्च, 2020)।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में उनके सरकारी आवास पर राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी ‘एक जनपद-एक उत्पाद’ योजना के तहत MSME एवं निर्यात प्रोत्साहन विभाग और क्वालिटी काउन्सिल ऑफ़ इण्डिया (क्यू0सी0आई0) के बीच एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर कर अभिलेखों का आदान-प्रदान किया गया।

प्रदेश सरकार की ओर से सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम एवं निर्यात प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल और क्यू0सी0आई0 की ओर से सेक्रेटरी जनरल डाॅ0 आर0पी0 सिंह ने एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर खादी एवं ग्रामोद्योग, सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह भी मौजूद रहे।



इस मौके पर उत्तर प्रदेश में निर्मित के0वी0आई0बी0 उत्पादों के संवर्धित उपयोग और बाजार के लिए गुणवत्ता ढांचे के विकास के लिए यू0पी0के0वी0आई0बी0 और क्यू0सी0आई0 के बीच एक समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए।

एम0ओ0यू0 के अंतर्गत क्यू0सी0आई0 सभी ओ0डी0ओ0पी0 उत्पादों के लिए घरेलू और निर्यात बाजारों के लिए गुणवत्ता मूल्यांकन मापदंडों की पहचान का विकास करेगा। निर्धारित गुणवत्ता ढांचे के अनुसार ओ0डी0ओ0पी0 उत्पादों के परीक्षण की सुविधा के लिए क्यू0सी0आई0 प्रत्येक ओ0डी0ओ0पी0 उत्पाद के लिए आवश्यक परीक्षणों की पूरी सूची तैयार करेगा। क्यू0सी0आई0 सभी हितधारकों (कारीगरों, एम0एस0एम0ई0 इकाइयों और ओ0डी0ओ0पी0 अधिकारियों सहित) के लिए संवेदीकरण कार्यशालाओं के संचालन के लिए एक व्यापक मॉड्यूल विकसित करेगा। इस प्रकार क्यू0सी0आई0 द्वारा ओ0डी0ओ0पी0 उत्पादों के लिए विकसित गुणवत्ता मानकों के बारे में जागरूकता बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा।

इस एम0ओ0यू0 के अंतर्गत क्यू0सी0आई0, एन0ए0बी0एल0 से मान्यता प्राप्त ‘टेस्टिंग एण्ड कैलीबरेशन’ लैब्स का लाभ उठाकर प्रत्येक ओ0डी0ओ0पी0 उत्पाद के प्रत्येक परीक्षण के लिए उपलब्ध परीक्षण एजेंसी के विवरण से अवगत कराएगा। यह दुनिया भर में गुणवत्तापूर्ण ओ0डी0ओ0पी0 उत्पादों को उपलब्ध कराने में मदद करेगा।
btnimage