पूर्व मुख्यमंत्री के निर्देश पर समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों पर धरना देगी

लखनऊ (09 अगस्त, 2019)।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर 9 अगस्त 2019 को समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों पर जनहित के मुद्दों को लेकर धरना देगी। 9 अगस्त 1942 को गांधी जी ने देश को "अंग्रेजों भारत छोड़ों" के साथ 'करो या मरो' का मंत्र दिया था। इस अगस्त क्रांति के फलस्वरूप ही 15 अगस्त 1947 को देश को आजादी मिली थी। समाजवादी पार्टी द्वारा 9 अगस्त 2019 को भाजपा सरकार की गलत नीतियों के विरूद्ध जन आक्रोश की अभिव्यक्ति के लिए भी यह धरना शांतिपूर्ण होगा।



समाजवादी पार्टी के 9 अगस्त 2019 को प्रस्तावित धरना कार्यक्रम के मुख्य मुद्दे रहेंगे प्रदेश की कानून व्यवस्था में गिरावट के कारण जंगलराज की स्थिति, बच्चियों से दुष्कर्म और हत्याओं की बाढ़, बिजली कटौती, बिजली की दरों में वृद्धि, डीजल-पेट्रोल की मंहगाई, गन्ना किसानों का बकाया, गौशालाओं में गायों की मौत, अल्पसंख्यकों पर अत्याचार, आरक्षण पर संकट, भर्तियों में धांधली और भ्रष्टाचार आदि।

इस धरना कार्यक्रम में ईवीएम मशीन की जगह बैलेट पेपर से चुनाव, नकली शराब का धंधा बंद हो, शराब माफियाओं के विरूद्ध सख्त कार्यवाही हो, खनन माफियाराज खत्म करने, सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने की योजना में भ्रष्टाचार और हाईस्कूल इंटर की परीक्षा शुल्क में 150 से 182 प्रतिशत की बढ़ोतरी और छात्रों-युवाओं के उत्पीड़न के खिलाफ भी आवाज उठाई जाएगी।



समाजवादी पार्टी उन्नाव की रेप पीड़िता को न्याय दिलाने, समाजवादी कार्यकर्ताओं की हत्या और उत्पीड़न, फर्जी एनकाउण्टर, सांसद मोहम्मद आजम खां के प्रति बदले की भावना से कार्यवाही का विरोध एवं सोनभद्र के उम्भा गांव में आदिवासियों के नाम जमीन आवंटित आदि मांगों को लेकर समाजवादी पार्टी द्वारा 9 अगस्त को शांतिपूर्ण धरना के पश्चात् जनसमस्याओं के निराकरण के लिए जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल महोदया को सम्बोधित ज्ञापन भी दिया जाएगा। यह धरना कार्यक्रम राज्य के सभी 75 जनपदों में आयोजित किया जायेगा।

इस धरना कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के सभी युवा संगठन, महिला सभा, सांसद, विधायक, पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता एवं जन भागीदारी होगी।
btnimage