सपा और बसपा की सरकारों ने भ्रष्ट नौकरशाही को संरक्षण देने का काम किया : शलभ मणि त्रिपाठी

लखनऊ (11 जुलाई, 2019)।
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ पीएम मोदी और सीएम योगी की डबल इंजन की सरकार जिस तेजी से कार्रवाई कर रही है उससे भ्रष्टाचारियों में जबरदस्त हड़कंप मचा हुआ है। पिछले पंद्रह सालों के दौरान उत्तर प्रदेश में पहली बार बेईमानों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई देखने को मिल रही है। इससे पूर्व जब भी पीएम के निर्देश पर केंद्रीय एजेंसियां उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचारियों के खिलाफ मुहिम छेड़ती थीं, तब सपा की सरकार इसमें प्रशासनिक सहयोग नहीं देती थी। अब योगी सरकार जहां उत्तर प्रदेश में भ्रष्ट कर्मचारियों अफसरों की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी में जुटी हुई है तो वहीं भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम में केंद्रीय एजेंसियों को भी पूरा सहयोग दे रही है।

प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि पहले पंद्रह सालों के दौरान सपा और बसपा की सरकारों ने भ्रष्ट नौकरशाही को संरक्षण देने का काम किया। भ्रष्टाचारी अफसर और कर्मचारी जनता को लूटते रहे, लेकिन सपा-बसपा की सरकारें जनता को लुटती और परेशान होती देखता रहीं। ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐतिहासिक कार्रवाई शुरू कर दी है। ऐसे अफसर और कर्मचारियों को जबरिया रिटायर करने के साथ ही भ्रष्टाचार में पकड़े जा रहे अफसरों को जेल भी भेजा जा रहा है।

हाल ही में परीक्षा नियंत्रक अंजू कटियार के साथ ही साथ पिछले दिनों इटावा और चंदौली से हुई परिवहन अधिकारियों व वरिष्ठ प्रबंधक तकनीकी एन.के. सिंह की गिरफ्तारी इसका प्रमाण है। अब तक दौ सौ से ज्यादा अधिकारियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार जहां नौकरी से बाहर कर चुकी है तो वहीं चार सौ से ज्यादा लोगों के खिलाफ कड़ी विभागीय कार्रवाई की जा चुकी है। पुलिस महकमे से भी दागियों को चुन-चुन कर बाहर किया जा रहा है। इतना ही नहीं रिवर फ्रंट घोटाले में भी तेजी से कार्रवाई करते हुए प्रदेश सरकार ने भ्रष्ट इंजीनियरों और अधिकारियों की ना सिर्फ संपत्तियां जब्त कर लीं, बल्कि इन सभी के खिलाफ आपराधिक मामले भी दर्ज करा दिए।

प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के निर्देश पर केंद्रीय जांच एजेंसियों ने भी भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ जबरदस्त धावा बोल रखा है। यूपी के चीनी मिल घोटाले, लोकसेवा आयोग के भर्ती घोटाले, खनन घोटाले और चीनी मिल घोटाले में पिछले चार पांच दिनों के दौरान ताबड़तोड़ छापे पड़े हैं और तमाम बड़ी मछलियां गिरफ्त में आई हैं। तय है कि यूपी की जनता का हक लूटने वाले भ्रष्टाचारी जल्द ही जेल की सलाखों में नजर आएंगे। शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि तेजी से हो रही इन कार्रवाइयों से जनता बेहद खुश है तो वहीं भ्रष्टाचारियों में हडकंप है।
btnimage