UPCM ने इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया

उत्तर प्रदेश (इलाहाबाद)।
UPCM ने इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने नगर में सफाई प्रबन्ध के लिए प्रयोग में लायी जाने वाली टाटा एस गाड़ियों, मोबाइल शौचालयों आदि की फ्लीट का भी निरीक्षण किया। भारद्वाज पार्क के स्थलीय निरीक्षण के दौरान UPCM ने वहाँ लाइटिंग के पर्याप्त प्रबन्ध करने और पार्क को भव्य बनाने के निर्देश देते हुए अधिकारियों से कहा कि किसी भी निर्माण कार्य की गुणवत्ता में कमी न हो तथा कार्य समय से पूर्ण हो।

UPCM को भारद्वाज पार्क में कराए जा रहे कार्यों की नगर आयुक्त ने जानकारी दी। UPCM ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि पार्क में लाइटिंग की पर्याप्त व्यवस्था की जाए, जिससे सायं के समय यह पार्क लोगों के लिए मनोहर एवं आकर्षक दिखे। उन्होंने कहा कि महर्षि भारद्वाज की मूर्ति के आस-पास भी पर्याप्त लाइटिंग की व्यवस्था की जाए और पार्क मे साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होंने कहा कि कार्यों को निर्धारित समय में पूरा किया जाए।

UPCM इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण करते हुए
UPCM इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण करते हुए

ज्ञातव्य है कि भारद्वाज पार्क बालसन चौराहा पर स्थित है। इस पार्क के समेकित विकास एवं सौन्दर्यीकरण का कार्य नगर निगम द्वारा किया जा रहा है। इस कार्य की लागत 440.03 लाख रुपए है। इसी तरह बालसन चैराहा के मरम्मत एवं सुन्दरीकरण का कार्य इलाहाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा किया जा रहा है। इसकी लागत 413.62 लाख रुपए है।

UPCM ने भारद्वाज पार्क में निरीक्षण के दौरान कहा कि प्रयागराज की पहचान महर्षि भारद्वाज से है। यहां की धरती पर उनका आश्रम रहा है। इसलिए उनके नाम पर बनाए जाने वाले भव्य पार्क में उनकी विशाल प्रतिमा स्थापित की जाए। इसकी पहचान जनसामान्य में कराने और प्रयागराज आने वाले पर्यटकों, श्रद्धालुओं और स्थानीय निवासियों को भी समुचित जानकारी देने के लिए ऐतिहासिक एवं पौराणिक सन्दर्भ पर आलेख एवं लेजर शो आदि की व्यवस्था की जाए।

UPCM ने इलाहाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा बनायी जा रही सड़क और उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा कराए जा रहे स्थायी बस स्टेशन के निर्माण कार्यों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों से किए जा रहे कार्यों की जानकारी भी प्राप्त की। उन्होंने लोक निर्माण विभाग द्वारा बनायी जा रही सड़कों के कार्यांे की प्रगति की जानकारी प्राप्त की।

UPCM ने भगवान वेणीमाधव मन्दिर में पूजा-अर्जना की और कुम्भ के सफल आयोजन की कामना की। इस अवसर पर उन्होंने मन्दिर के नवीनीकरण कराए जाने के निर्देश दिए। UPCM परेड क्षेत्र में किले में जाकर और वहां सरस्वती कूप और अक्षयवट के दर्शन किए। उन्होंने अधिकारियों के साथ वहां कुम्भ में जनसामान्य के आवागमन एवं दर्शन की सम्भावनाओं और व्यवस्थाओं को समझा।

UPCM ने शास्त्री ब्रिज का निरीक्षण और झूंसी क्षेत्र में चल रहे निर्माण एवं सुन्दरीकरण के कार्यों का अवलोकन किया। UPCM नये यमुना पुल होते हुए अरैल पहुंचकर कुम्भ के दौरान विकसित किए जाने वाली आधुनिक सुविधाओं की टेण्ट सिटी और पार्किंग इत्यादि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने अरैल स्थित सच्चा बाबा आश्रम और बाघम्बरी गद्दी का भ्रमण भी किया।

UPCM ने पुलिस लाइन में वायु सेना के उन जांबाज़ जवानों से भेंट की, जिन्होंने हैरतअंगेज हवाई कारनामे में हिस्सा लिया था।

UPCM वायु सेना के जांबाज़ जवानों से भेंट करते हुए
UPCM वायु सेना के जांबाज़ जवानों से भेंट करते हुए

इसके उपरान्त UPCM ने पुलिस लाइन के सभागार में प्रेस वार्ता की। UPCM ने अपने दो दिन के प्रवास के दौरान मीडिया कर्मिंयों के सहयोग और प्रेम के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कुम्भ के कार्यों की प्रगति पर संतोष जताया। युद्धस्तर पर चल रहे कार्यों को देखकर विश्वास व्यक्त किया कि अगले एक माह में प्रयागराज पूरी तरह से संवर जाएगा। इस नगर का एक भव्य एवं दिव्य स्वरूप कुम्भ के पहले साकार होने में अब कोई सन्देह नहीं है। उन्होंने मीडिया कर्मिंयों और पूरे समाज का, इस राष्ट्रीय आयोजन में अपना सकारात्मक सहयोग देने का आह्वान किया। एक प्रश्न के उत्तर पर उन्होंने कहा कि बहुत शीघ्र ही इस नगर का नाम प्रयागराज हो जाएगा।

UPCM ने कहा कि पिछले दो दिनों में उन्होंने प्रयागराज का लगातार भ्रमण किया है और पुराने नगर में उन्होंने नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना की अगुवाई में ही एक अलग टीम निरीक्षण के लिये भेजी। उन्होंने कहा कि नवम्बर के अन्त तक सभी कार्य पूरे हो जाएंगे, जिनका लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कर-कमलों से कराए जाने का प्रस्ताव भेजा जा रहा है। प्रेस वार्ता में कई वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री, सांसद एवं विधायक, महापौर एवं संगठन के जनप्रतिनिधिगण के साथ ADG, कमिश्नर, जिलाधिकारी, मेलाधिकारी आदि उपस्थित रहे।

UPCM के कुम्भ कार्यों के स्थलीय निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, स्टाम्प एवं न्यायालय शुल्क मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’, महापौर अभिलाषा गुप्ता, जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

UPCM इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण करते हुए
UPCM इलाहाबाद नगर में प्रयाग कुम्भ-2019 के दृष्टिगत कराए जा रहे कार्यों का निरीक्षण करते हुए
btnimage