UPCM ने उन्नाव में ग्राम स्वराज अभियान के तहत ग्राम प्रधानों से सीधा संवाद किया

उत्तर प्रदेश (उन्नाव)।
UPCM ने केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार की लाभार्थीपरक योजनाओं को ग्राम स्तर पर लागू किए जाने और विकासपरक योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को पारदर्शी एवं समयबद्ध ढंग से उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

UPCM जनपद उन्नाव में ग्राम स्वराज अभियान के तहत 131 ग्रामों के प्रधानों से सीधा संवाद करते हुए कहा कि विकास की धारा से वंचित लोगों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, सौभाग्य, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा, मिशन इन्द्रधनुष, वृद्धावस्था, दिव्यांग, विधवा पेंशन योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, राशन कार्ड अन्त्योदय/पात्र गृहस्थी, अनुसूचित जाति/जनजाति के लोगों के लिये शादी अनुदान एवं निःशुल्क बोरिंग योजना और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाओं को लागू कर पात्र व्यक्तियों को लाभ दिया जा रहा है।

UPCM जनपद उन्नाव में ग्राम स्वराज अभियान के तहत 131 ग्रामों के प्रधानों से सीधा संवाद करते हुए
UPCM जनपद उन्नाव में ग्राम स्वराज अभियान के तहत 131 ग्रामों के प्रधानों से सीधा संवाद करते हुए

ग्राम स्वराज अभियान के तहत 14 अप्रैल से 05 मई, 2018 के मध्य इन योजनाओं को मिशन के तौर लेते हुए कार्य किया गया। उन्होंने ग्राम प्रधानों से कहा कि ग्राम स्वराज अभियान के तहत केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को पात्र लोगों तक पहुंचाने में जो सहयोग किया गया है, इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं। उन्होंने निर्देश दिए कि जिला प्रशासन, चयनित ग्राम सभाओं में निर्धारित लक्ष्यों को समयबद्ध ढंग से पूरा करे।

UPCM ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य एवं विद्युत की व्यवस्था से चयनित ग्रामों को ग्राम स्वराज योजना के तहत संतृप्त किया गया है। उन्होंने ग्राम प्रधानों से कहा कि जिस प्रकार सम्पूर्ण समाधान दिवस एवं थाना दिवस का आयोजन जिला प्रशासन द्वारा होता है उसी तर्ज पर अपनी-अपनी ग्राम सभाओं में कमेटियों का गठन कर ग्राम समाधान दिवस आयोजित करें, ताकि भूमि एवं ग्रामों से सम्बन्धित छोटे-छोटे विवादों का स्थानीय स्तर पर, सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को बुला कर, हल निकाला जा सके। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन पर जोर देते हुये कहा कि व्यक्तिगत शौचालय ज्यादा से ज्यादा बनवाये जायें। ग्राम पंचायतें इस अभियान का हिस्सा बनें जिससे अधिक से अधिक लोगों को इसका फायदा मिल सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक गांव में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था की जा रही है। गांव में समितियों का गठन कर योजनाओं का क्रियान्वयन समयबद्ध तरीके से किया जाये, जिससे लोगों को लाभ मिल सके।

इस अवसर पर UPCM ने लाभार्थियों को उज्ज्वला, स्मार्ट ग्राम और श्रमिक दुर्घटना बीमा योजना के अन्तर्गत प्रमाण पत्र एवं प्रशस्ति पत्र वितरित किए। उन्होंने ग्राम प्रधानों से केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि ‘साफ नीयत, सही विकास’ के लिये राज्य सरकार संकल्पित है।

UPCM ने लाभार्थियों को उज्ज्वला, स्मार्ट ग्राम और श्रमिक दुर्घटना बीमा योजना के प्रमाण पत्र एवं प्रशस्ति पत्र वितरित करते हुए
UPCM लाभार्थियों को उज्ज्वला, स्मार्ट ग्राम और श्रमिक दुर्घटना बीमा योजना के प्रमाण पत्र एवं प्रशस्ति पत्र वितरित करते हुए

UPCM अपने भ्रमण कार्यक्रम के दौरान ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत ग्राम पंचायत रऊकरना विकास खण्ड सरोसी मे आयोजित चौपाल कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। उन्होंने ग्रामीण विद्युतीकरण, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण), स्वच्छ शौचालय निर्माण, राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन, स्टैण्डअप योजना, मुद्रा योजना, सभी प्रकार की पेंशन योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, राशन कार्ड एवं निःशुल्क बोरिंग योजना के लाभार्थियों से सीधा संवाद करते हुये पूछा कि योजनाओं का लाभ समय से मिल रहा है कि नहीं। UPCM ने जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि वे ग्राम में कैम्प लगाकर योजनाओं को पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने का कार्य समयबद्ध ढंग से कराएं।

इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित, सांसद सच्चिदानन्द हरि साक्षी महाराज एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से चर्चा करते हुए ग्राम प्रधानों से कहा कि वे अपनी ग्राम सभा में सम्बन्धित योजनाओं को समय से लागू करायें।

कार्यक्रम में राज्य सरकार के मंत्री रमापति शास्त्री, भूपेन्द्र सिंह चौधरी, मोहसिन रजा सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण और शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

btnimage