UPCM ने गोरखपुर में विभिन्न परियोजनाओं के निरीक्षण के साथ विकास एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक की

उत्तर प्रदेश (गोरखपुर)।
UPCM ने जनपद गोरखपुर के सर्किट हाउस सभागार में नगर निगम, नगर पंचायतों, G.D.A एवं जल निगम आदि विभागों के अधिकारियों के साथ विकास कार्यों एवं उनके द्वारा कराए जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान निर्देश दिए कि उनवल (संग्रामपुर कस्बा) नगर पंचायत के कार्यालय भवन के निर्माण के लिए प्रस्ताव नगर विकास विभाग को तत्काल भेजा जाए। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिए कि वाॅर्डवार डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन के लिए गाड़ियों की खरीद हेतु भी प्रस्ताव बनाकर उपलब्ध कराएं।

UPCM गोरखपुर में विभिन्न परियोजनाओं के निरीक्षण के साथ विकास एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक करते हुए
UPCM गोरखपुर में विभिन्न परियोजनाओं के निरीक्षण के साथ विकास एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक करते हुए

UPCM ने कहा कि नगर में सिटी बस चलाने के लिए भी कार्ययोजना बनायी जाए और फेरी नीति लागू कर पटरी व्यवसाइयों का पुनर्वास कराकर सड़कों को अतिक्रमण से मुक्त कराया जाए। उन्होंने कहा कि गोरखपुर शहर को बदलने के लिए सभी लोग मेहनत से कार्य करें तथा सभी का सहयोग लेकर शहर को जाम, अतिक्रमण से मुक्त कराएं एवं नगर में सफाई, स्वच्छता का भी विशेष ध्यान रखा जाये। जलापूर्ति की समीक्षा करते हुए उन्होंने मण्डलायुक्त को निर्देश दिए कि जिन ओवरहेड टैंकों से जलापूर्ति नहीं हो रही, उनकी जांच करायी जाए।

UPCM ने कहा कि ऐसी व्यवस्था बनायी जाए, जिससे हर परिवार में अपना एक शौचालय हो और गांव के आसपास सामुदायिक शौचालय के लिए भी व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूरे प्रदेश को 02 अक्टूबर, 2018 तक O.D.F कराना है। इसके लिए सभी अधिकारी पूरी मेहनत के साथ कार्य करें।

UPCM ने प्रधानमंत्री आवास योजना, LED लाइट, कूड़ा निस्तारण आदि की निकायवार समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि अधिकारी प्रतिदिन प्रातःकाल भ्रमण कर सफाई की निगरानी करें तथा इसके लिए नोडल अधिकारी भी तैनात किया जायें। उन्होंने कहा कि LED लाइट लगने से सवा दो करोड़ की बिजली की बचत हो रही है। बिजली की बचत राष्ट्रीय बचत है, अनावश्यक रूप से ऊर्जा का व्यय न करें। बिजली की बचत के लिए शहर में LED लाइटें लगायी जा रही हैं। यह एक बड़ा कार्य है, इससे शहर की लाइटों में एकरूपता रहेगी, जो भी LED लाइट लगना अवशेष है, उसे भी लगवाया जाये। उन्होंने सौभाग्य योजना में कैम्प लगाकर जनप्रतिनिधियों के हाथों से विद्युत कनेक्शन दिलवाने को भी कहा। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए कैम्प लगाकर आवेदन लेने के भी निर्देश दिए। उन्होंने चैराहों के सौन्दर्यीकरण, मण्डी स्थल को ठीक करने और नगर निगम एवं नगर पंचायतों की आय को बढ़ाने के लिए भी कार्य करने को कहा।

इसके उपरान्त UPCM ने रामगढ़ ताल में कराये जा रहे बोल्डर पिचिंग का काम एवं नुमाइश ग्राउंड का निरीक्षण कर कार्यों का स्थलीय सत्यापन भी किया। इस अवसर पर उन्होंने जल निगम के अधिकारियों से बोल्डर पिचिंग के लिए कराये जा रहे कार्यों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी ली। उन्होंने नुमाइश ग्राउंड के निरीक्षण में मंच, पार्किंग एवं विद्युत खंभों के बारे में उपाध्यक्ष G.D.A से जानकारी ली। उन्हें अवगत कराया गया कि अण्डरग्राउण्ड केबिलिंग कर सभी खंभे मैदान से हटा दिए जाएंगे। उन्होंने सभी कार्यों को तेजी से कराने के निर्देश दिए।

UPCM गोरखपुर के रामगढ़ ताल में कराये जा रहे बोल्डर पिचिंग का काम एवं नुमाइश ग्राउंड का निरीक्षण करते हुए
UPCM गोरखपुर के रामगढ़ ताल में कराये जा रहे बोल्डर पिचिंग का काम एवं नुमाइश ग्राउंड का निरीक्षण करते हुए

इस अवसर पर नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, मण्डलायुक्त अनिल कुमार, जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

btnimage